अपने सपनों को उड़ान दें: शेयर बाजार में करियर के बेहतरीन अवसर 

अगर आप स्टॉकब्रोकर बनना चाहते हैं तो भारत के कई संस्थानों में कई तरह के कोर्स उपलब्ध हैं। 

इस शेयर मार्केट करियर बनाने के लिए स्टॉक ब्रोकर वाणिज्य, अकाउंटेंसी, अर्थशास्त्र, सांख्यिकी, व्यवसाय प्रशासन आदि का अध्ययन कर सकते हैं। 

इससे उम्मीदवार को शेयर बाजार क्षेत्र की गहन जानकारी मिलती है। इसमें आप ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं। 

शेयर बाज़ार में नौकरी की भूमिकाएँ क्या हैं? यदि आप शेयर-बाज़ार में अधिक पारंपरिक नौकरी की तलाश में हैं, तो विचार करने के लिए कई प्रकार की कंपनियाँ हैं।

स्टॉक मार्केट में करियर विकल्पों का पता लगाने के लिए कुछ शुरुआती 

स्टॉक ब्रोकिंग फर्म, स्टॉक एक्सचेंज, रजिस्ट्रार, क्लियरिंग कॉरपोरेशन, कस्टोडियन, म्यूचुअल फंड और पेंशन फंड कंपनियां, निवेश बैंकिंग फर्म, अनुसंधान संस्थान आदि हैं। 

– स्टॉकब्रोकर – इन्वेस्टमेंट एडवाइजर – फैनन्शियल सलाहकाल – ऑनलाइन स्टॉक ट्रेडर – पोर्टफोलियो मैनेजमेंट सेवा (PMS) – इक्विटी एनालिस्ट (मूलभूत/तकनीकी)

– वित्तीय विश्लेषण – रिसर्च एनालिस्ट – बाजार अनुसंधानकर्ता – इंश्योरेंस डिस्ट्रीब्यूटर/एडवाइज़र – MF डिस्ट्रीब्यूटर/एडवाइजर

आप किस प्रोफ़ाइल पर काम कर सकते हैं?