Skip to content

Patanjali Divya Shwasari Pravahi in Hindi: पतंजलि दिव्य श्वासारि प्रवाही के फायदे / नुकसान और उपयोग

Patanjali Divya Shwasari Pravahi in Hindi

Patanjali Divya Shwasari Pravahi in Hindi
Patanjali Divya Shwasari Pravahi in Hindi


कोविड संक्रमण का सबसे ज्यादा असर हमारे फेफड़ों पर पड़ता है. ऐसे में फेफड़ों को सुरक्षित और स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है। आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार, प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से तैयार पतंजलि दिव्य स्वासारि प्रवाही एक ऐसी औषधि है जो न केवल फेफड़ों को स्वस्थ रखती है बल्कि श्वसन संबंधी समस्याओं के इलाज में भी उपयोगी है। इस Patanjali Divya Shwasari Pravahi in Hindi लेख में हम आपको Patanjali Divya Shwasari Pravahi के फायदे, नुकसान और सेवन करने के तरीके के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

Patanjali Divya Shwasari Pravahi क्या है?

Patanjali Divya Shwasari Pravahi पतंजलि आयुर्वेद द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक कफ सिरप है। इसका उपयोग खांसी, फेफड़ों के संक्रमण और श्वसन प्रणाली से संबंधित बीमारियों के इलाज में किया जाता है।

पतंजलि दिव्य श्वासारि प्रवाही सामग्री: Ingredients in Patanjali Divya Shwasari Pravahi

Patanjali Divya Shwasari Pravahi में मुख्य रूप से मुलेठी और तुलसी का उपयोग किया गया है। दवा के पैकेट पर लिखी जानकारी के मुताबिक इसमें निम्नलिखित चीजें होती हैं:
  • मुलेटी
  • देसी तुलसी
  • लौंग
  • बे पत्ती

पतंजलि दिव्य स्वासारि प्रवाही के फायदे: Benefits of Patanjali Divya Shwasari Pravahi

फेफड़ों से जुड़ी समस्याओं के इलाज के लिए Patanjali Divya Shwasari Pravahi एक प्रभावी आयुर्वेदिक दवा है। यह न सिर्फ सर्दी-खांसी से राहत दिलाता है बल्कि अस्थमा जैसी गंभीर बीमारी के इलाज में भी उपयोगी है। आइए विस्तार से जानते हैं Patanjali Divya Shwasari Pravahi के सभी फायदों के बारे में।

1. खांसी

आजकल बढ़ते प्रदूषण और कमजोर इम्यूनिटी के कारण लोग अक्सर खांसी से परेशान रहते हैं। कभी-कभी रात में खांसी इतनी बढ़ जाती है कि सोना मुश्किल हो जाता है। खांसी से तुरंत राहत पाने के लिए Patanjali Divya Shwasari Pravahi का सेवन करें। इस आयुर्वेदिक कफ सिरप में मौजूद मुलेठी खांसी से तुरंत राहत दिलाती है।

2. गले की खराश

अगर आपके गले में खराश या हल्का दर्द है तो पतंजलि दिव्य श्वसारि प्रवाही का सेवन करने से जल्द राहत मिल सकती है। इसमें मौजूद मुलेठी और तुलसी गले को आराम पहुंचाते हैं और खराश से राहत दिलाते हैं।

3. अस्थमा

सर्दियों का मौसम अस्थमा के मरीजों के लिए ज्यादा मुश्किल होता है क्योंकि इन दिनों प्रदूषण बढ़ जाता है और त्योहारों के दौरान साफ-सफाई के कारण अस्थमा का दौरा पड़ने की संभावना भी बढ़ जाती है। Patanjali Divya Shwasari Pravahi अस्थमा के रोगियों के लिए बहुत उपयोगी है। यह फेफड़ों में सूजन को कम करता है और खांसी भी बंद कर देता है। अस्थमा के मरीजों को इसका नियमित सेवन करना चाहिए।

4. सांस फूलने की समस्या

अगर थोड़ी सी मेहनत करने या सीढ़ियां चढ़ने पर भी आपकी सांस फूलने लगे तो यह दर्शाता है कि आपके फेफड़े कमजोर हो रहे हैं। फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए Patanjali Divya Shwasari Pravahi कफ सिरप का सेवन करें। इसमें मौजूद प्राकृतिक जड़ी-बूटियां फेफड़ों को स्वस्थ और मजबूत बनाती हैं और सांस संबंधी बीमारियों को भी दूर करती हैं।

5. कोविड के लक्षणों

कोरोना वायरस से होने वाले संक्रमण से अभी भी पूरी तरह से बचा नहीं जा सका है और नए वेरिएंट पहले से भी ज्यादा खतरनाक होते जा रहे हैं. इस वायरस का सबसे ज्यादा असर फेफड़ों पर देखने को मिलता है और यह फेफड़ों को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है। कोविड संक्रमित लोगों में खांसी की समस्या कई दिनों तक बनी रहती है और आम कफ सिरप से ज्यादा राहत नहीं मिलती है. आयुर्वेदिक डॉक्टरों ने कहा कि Patanjali Divya Shwasari Pravahi पीने से कोविड-19 के कारण होने वाली खांसी से राहत मिलती है और फेफड़े मजबूत होते हैं और संक्रमण की संभावना कम हो जाती है।

6. बंद नाक से राहत

जब लोगों को सर्दी लगती है, तो अक्सर उनकी नाक बंद हो जाती है, जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है। Patanjali Divya Shwasari Pravahi में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बंद नाक से तुरंत राहत देते हैं और संक्रमण को भी ठीक करते हैं।

पतंजलि दिव्य श्वासारि प्रवाही सेवन विधि: Patanjali Divya Shwasari Flow Intake Method

आमतौर पर Patanjali Divya Shwasari Pravahi कफ सिरप को सुबह और रात को सोने से पहले एक-एक चम्मच लेना चाहिए। अगर आप कोविड या अस्थमा जैसी किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं तो Patanjali Divya Shwasari Pravahi का सेवन करने से पहले आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह लें।
नोट: Patanjali Divya Shwasari Pravahi पीने के बाद अगले एक घंटे तक पानी न पियें। तीन साल से कम उम्र के बच्चों के लिए इसका इस्तेमाल करने से बचें।

पतंजलि दिव्य स्वासारि प्रवाही के नुकसान: Side Effects of Patanjali Divya Shwasari Pravahi

Patanjali Divya Shwasari Pravahi पूरी तरह से प्राकृतिक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से बना है और आमतौर पर इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। एलोपैथिक कफ सिरप की तरह इसे पीने से नींद नहीं आती है। हालाँकि, किसी भी मामले में, जल्दी राहत पाने के लिए अत्यधिक खुराक न लें। ऐसा करना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. पतंजलि कफ सिरप की खुराक से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह लें।

पतंजलि दिव्य स्वासारि प्रवाही की कीमत: Patanjali Divya Swasari Pravahi Price

पतंजलि आयुर्वेद की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, Patanjali Divya Shwasari Pravahi के 250 मिलीलीटर पैक की कीमत 80 रुपये है।
आगे और पढ़िए:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *